यूपी-112 ने जागरूकता अभियान चलाकर नागरिकों को किया जागरूक

लखनऊ। एडीजी-112 श्री अशोक कुमार सिंह के दिशा निर्देशन मे तीन दिवसीय जागरूकता अभियान के प्रथम दिन दिनांक 1 जून को जनपद बरेली में बरेली जंक्शन पर नुक्कड़ नाटक की मदद से यूपी ११२ की विभिन्न सेवाओं से नागरिकों को रूबरू कराया गया। इसके साथ ही एलईडी वैन पर लघु फ़िल्में चलाकर लोगों को जागरूक किया गया। इसके साथ ही दुकानों पर ड़ेंगूलर व पोस्टर लगाये गए। बच्चों को यूपी-112 की जानकारी युक्त कॉमिक्स भी वितरित की गई।
इस मौके पर यूपी-112 मुख्यालय से अपर पुलिस अधीक्षक श्रीमती मोहिनी पाठक, यूपी-112प्रभारी मीडिया सेल प्रभारी श्री करुणा शंकर सिंह, श्री संजय गुप्ता और श्री विजय मिश्रा के नेतृत्व मे टीमें स्थानीय पुलिस roip SI सत्येंद्र कुमार के सहयोग से नागरिकों को 112 की विभिन्न योजनाओं के बारे मे अवगत कराया। बरेली जंक्शन के प्रोग्राम के बाद मीरगंज चौराहा, सिंधौली, शीशगढ़, सीबी गंज को कवर किया गया।।

नंबर एक, सेवाएं अनेक

जागरूकता कार्यक्रम के माध्यम से नागरिकों को बताया गया कि किसी भी आपात स्थिति मे सिर्फ यूपी-112 पर कॉल करके कैसे विभिन्न सेवाओं का लाभ ले सकते हैं। 112 के माध्यम से पुलिस सहायता के अतिरिक्त आग लगने पर अग्निशमन वाहन, दुर्घटना होने पर एम्बुलेंस और प्राकृतिक आपदा के समय एसडीआरएफ के सेवाएं नागरिक ले सकते हैं। इसके अतिरिक्त आवश्यकता पड़ने पर चलती ट्रेन मे भी आपात सहायता 112 के माध्यम से ली जा सकती है।
महिलाओं और बुजुर्गों की सामाजिक सुरक्षा का ध्यान
महिलाओं और बुजुर्गों की सामाजिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यूपी-112 द्वारा विशेष तौर पर योजनाएं संचालित की जा रही हैं। घरेलू हिंसा से प्रभावित महिलाओं को त्वरित सहायता प्रदान करने के लिए पीड़ित महिलाओं का 112 मे पंजीकरण किया जाता है। ताकि आवश्यकता पड़ने पर पुलिस प्रबल प्रतिक्रिया दे सके। इसके अतिरिक्त रात्रि मे 10 बजे से सुबह 6 बजे तक अकेली महिला अपने गंतव्य तक जाने के लिए 112 पर कॉल कर पुलिस सहायता ले सकती है। अकेले रहने वाले बुजुर्गों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए ‘सवेरा’ योजना 112 द्वारा चलाई जा रही है। प्रदेश मे कहीं से भी बुजुर्ग यूपी-112 पर कॉल करके अपना पंजीकरण करवा कर सवेरा योजना का लाभ ले सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button