जिला अस्पताल की स्वास्थ्य सेवाएं अब मोतीपुर गांव में

सत्ता पक्ष व विपक्ष के नेता बने रहे मूकदर्शक

लखीमपुर खीरी। तराई में बसे लखीमपुर की जनता ने जिला अस्पताल लखीमपुर से मोतीपुर गांव में स्थानांतरित होने पर सब्र की सीमायें लांघ दी हैं । २०२२ में विधानसभा चुनाव में ओट पाने के लिए चाहे सत्ता पक्ष हो या विपक्ष हो, जनता की समस्यायों का समाधान करने का वादा किया था। परन्तु जिला अस्पताल की आपातकालीन सेवा मोतीपुर गांव में स्थानांतरित होने पर सभी दल खामोशी साधे हुए हैं। लोक सभा चुनाव के समय मेंढक की तरह निकलने वाले सभी नेता आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाओं को लखीमपुर लाने की घोषणाएं करेंगे। इस बीच गरीब, बेसहारा मौत से जूझ रहे मरीज मौत की नींद सो चुके होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button