बगैर नम्बर की बाईक ने कांवड़िये को रौंदा

कोतवाली सदर प्रभारी चंद्र शेखर सिंह ने पत्रकारों को झूंठे मुकदमों में फंसाने की दी धमकी

जाम लगाये कांवड़ियों पर पुलिस ने बरसाईं लाठियां

लखीमपुर खीरी (आमिर इक़बाल )। थाना हैदराबाद के अंतर्गत ग्राम महेशपुर में फरूखा बाद से कांवर लेकर आ रहे जनपद शाहजहांपुर के ग्राम रमापुर उत्तरी निवासी बृजेश पाल को बाईक सवार ने रौंद दिया। आधे घंटे तक तड़पने के बाद एंबुलेंस पहुंचने से पहले उसकी मौत हो गई। जत्थे के चालीस कांवड़ियों ने सड़क को जाम कर दिया। फिर क्या था कयी थानों की आयी पुलिस ने बर्बरता पूर्वक कांवरियों पर लाठियां बरसाईं।

कांवड़ियों पर लाठियां बरसाने एवं घायल बृजेश को समय से उपचार हेतु न भेज पाने के कारण पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने एसएचओ हैदराबाद को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। कांवड़ियों पर लाठियां बरसाने एवं घायल बृजेश को समय से उपचार हेतु न भेज पाने के कारण पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन एस एच ओ हैदराबाद को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है।

मौका पाते ही पुलिस बृजेश पाल के शव को पुलिस जीप में डाल कर पोस्टमार्टम हाउस के लिए मौक़े से भाग खड़ी हुई । जिसका पंचनामा पहले से छावनी में तब्दील पोस्टमार्टम हाउस पर किया गया। यही नहीं पोस्टमार्टम हाउस पर मौजूद भारी पुलिस बल में मौजद कोतवाली सदर प्रभारी चंद्र शेखर सिंह ने पत्रकारों के साथ अभद्र व्यवहार किया और झूंठे मुकदमों में वरिष्ठ पत्रकारों को फंसाने की धमकी दी। चंद्र शेखर सिंह ने पत्रकारों की बाईकों की बीडियो फिल्म भी बनवायी,एक पत्रकार का नाम पूंछकर कहा देखें तुम वहां कैसे रहते हो। मृतक की मां मुन्नी देवी ने बताया जिस बगैर नम्बर की बाईक ने आज प्रातः 9 बजकर 51 मिनट पर मेरे बेटे बृजेश को रौंदा ,उस बाईक में टंगे झोले में शराब की बोतलें भरी हुई थीं। बाईक सवारों को भगाने में पुलिस ने अहम भूमिका निभाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button