सहारा ने स्किल डेवलपमेंट ट्रेनीज़ के लिए आयोजित की प्रतियोगिता

लखनऊ सहारा इंडिया परिवार के तत्वावधान में सहारा वेलफेयर फाउंडेशन ने आज प्रशिक्षुओं के लिए एक स्किल डेवलपमेंट प्रतियोगिता का आयोजन रूदही स्थित अपने बख्शी का तालाब केंद्र में किया। आसपास के क्षेत्रों से 50 से अधिक सहारा वेलफेयर फाउंडेशन के प्रशिक्षुओं ने प्रतियोगिता में बढ़-चढ़कर भाग लिया। प्रतियोगिता की थीम – ‘सशक्तिकरण और शिक्षा को प्रोत्साहन है। यह कार्यक्रम इग्नू (IGNOU) और भारत सरकार के स्किल डेवलपमेंट विभाग की इकाई जन शिक्षण संस्थान (JSS) के सहयोग से आयोजित किया गया। जन शिक्षण संस्थान के दिशा निर्देशन में सहारा वेलफेयर फाउंडेशन ने सिलाई, कढ़ाई, कंप्यूटर दक्षता, मेहंदी कला व कागज़ के लिफ़ाफ़े बनाने, फूड प्रोसेसिंग, ब्यूटीशियन जैसे कामों में प्रशिक्षण देकर सक्रिय भूमिका निभाने का कार्य किया है। इस जागरूकता कार्यक्रम का शुभारंभ पौधरोपण व मुख्य अतिथि तथा विशिष्ट अतिथियों को पौधों के वितरण से किया गया। विगत् 7 वर्षों से सहारा वेलफेयर फाउंडेशन स्किल डेवलपमेंट के क्षेत्र में प्रयासरत रहा है। इसका निहित उद्धेश्य है कि वंचित व हाशिए पर रह रहे युवाओं में स्वावलंबन का विकास हो सके।

इस विशेष अवसर पर सहारा वेलफेयर फाउंडेशन की प्रमुख श्रीमती कुमकुम रॉय चौधरी ने अपने संदेश में कहा कि बख्शी का तालाब केंद्र इस दिशा में सराहनीय कार्य कर रहा है और इस कार्य के लिए शुभकामनाएं भी दीं। जन शिक्षण संस्थान, लखनऊ के निदेशक डॉक्टर अनिल कुमार श्रीवास्तव ने इस अवसर पर अपने सम्बोधन में भारत सरकार के स्किल डेवलपमेंट मंत्रालय के तत्वावधान में दी जा रही स्किल डेवलपमेंट गतिविधियों के बारे में अवगत कराया। इग्नू के असिस्टेंट डायरेक्टर श्री कीर्ति विक्रम सिंह ने प्रशिक्षण के कोर्स समाप्ति के बाद उच्च शिक्षा व इस कोर्स को करने के बाद रोज़गार अवसर इत्यादि के बारे में सूचनाएं दीं। उन्होंने केंद्र में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले प्रशिक्षुओं को निर्धारित शुल्क से कम पर इग्नू के स्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश की पेशकश की। इसके अलावा उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवार मुफ़्त में पाठ्यक्रम में शामिल हो सकते हैं। उन्होंने स्वावलंबन तथा शिक्षा के महत्व को विशेष बल दिया। इस अवसर पर जन शिक्षण संस्थान, लखनऊ के निदेशक डॉ. अनिल कुमार श्रीवास्तव, रूदही हायर सेकेंडरी स्कूल के हेडमास्टर श्री बी.एन. चक्रवर्ती व नगर पंचायत कॉरपोरेटर श्री ज्ञान प्रकाश पटेल भी उपस्थित थे।

1997 में अपनी शुरुआत से ही सहारा वेलफेयर फाउंडेशन शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के वंचित व पिछड़े वर्गों के उद्धार के लिए प्रयासरत रहा है। इसके गतिविधि क्षेत्रों में साक्षरता, सार्वजनिक स्वास्थ्य, वोकेशनल ट्रेनिंग, पर्यावरण शिक्षा, फूड प्रोसेसिंग, स्वच्छता, शुद्ध पेयजल, कमज़ोर आर्थिक वर्ग की प्रतिभाशाली छात्राओं को छात्रवृत्ति, प्रतिवर्ष 101 लोगों का सामूहिक विवाह व विभिन्न विषयों पर जागरूकता अभियान शामिल हैं।

इस अवसर पर जन शिक्षण संस्थान के प्रोग्राम ऑफ़िसर श्री पन्नालाल, डॉ. मनीष कुमार, श्री गौरव शुक्ला, डॉ. साकेत शुक्ला, श्री रामप्रीत कुशवाहा, श्री बृजेश तिवारी, श्री रमाकांत वर्मा, श्री अशोक कुमार गुप्ता, श्री मनोज कुमार सिंह, श्री हरीश मसन्द, श्री डी.डी. चौधरी आदि भी उपस्थित थे। श्री बृजेश तिवारी ने धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button