सिर्फ सम्मानित पत्रकारो को जारी होगा विधान सभा सत्र 2022 का पास

यूपी विधानसभा का बजट सत्र 23 मई से शुरू हो रहा है। इस बार जब बजट सत्र की शुरुआत होगी तो यूपी विधानसभा की तस्वीर बदली-बदली नजर आएगी, क्योंकि यूपी विधानसभा में ई-विधान सिस्टम को लागू किया जा रहा है. विधानसभा में विधायकों की सीटें बढ़ाई गई है और हर सीट पर टैबलेट लगाया जाएगा। यूपी विधानसभा अब पूरी तरह से डिजिटल हो चुकी है. अब विधानसभा की सारी कार्यवाही यूट्यूब पर लाइव स्ट्रीमिंग भी की जाएगी। हालांकि बजट सत्र शुरू होने से पहले 20 और 21 मई को यूपी विधानसभा के सदस्यों का ओरिएंटेशन प्रोग्राम रखा गया है, जिसकी शुरुआत लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला करेंगे।

वहीं विधानसभा में 21 मई को सरकार के सभी मंत्रियों और 18वीं विधानसभा के सभी सदस्यों का ट्रेनिंग सेशन रखा गया है जो विधानसभा के मंडप में ही होगा. इसमें सभी को ई-विधान सिस्टम की ट्रेनिंग दी जाएगी। इसकी भी शुरुआत लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना करेंगे क्योंकि अब आगे विधानसभा की सारी कार्यवाही पेपरलेस होगी।

विधान सभा के सत्र में निम्नलिखित मानकों के साथ सम्मानित पत्रकारों को निर्गत किए जाएंगे प्रवेश-पत्र

आज दिनांक 18 मई, 2022 को विधान सभा के मा0 अध्यक्ष, श्री सतीश महाना, द्वारा प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के कतिपय वरिष्ठ पत्रकारों के साथ विधान सभा के सत्र के दौरान पत्रकारों को प्रवेश-पत्र आदि निर्गत किए जाने के संबंध में विचार-विमर्श किया गया।

इस बैठक में श्री प्रवीन कुमार, रीजेडेन्ट आडीटर, टाइम्स ऑफ इण्डिया, श्री आशुतोष शुक्ल, सम्पादक दैनिक जागरण, श्री राजीव सिंह, सम्पादक, दैनिक अमर उजाला, श्री संजय त्रिपाठी, वरिष्ठ पत्रकार, सुश्री कामना हजेला, ए0एन0आई0, ब्यूरो प्रमुख, श्री मनमोहन राय, सम्पादक, न्यूज-18 चैनल, श्री सुरेश बहादुर सिंह, स्वतंत्र पत्रकार, श्री रामदत्त त्रिपाठी, स्वतंत्र पत्रकार, श्रीमती सुनीता ऐरन, वरिष्ठ स्थानीय सम्पादक, हिन्दुस्तान टाइम्स, श्री अनिल श्रीवास्तव, ब्यूरो प्रमुख, अमर उजाला के साथ ही श्री नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग एवं श्री प्रदीप कुमार दुबे, प्रमुख सचिव, विधान सभा भी उपस्थित रहे।

प्रेस मान्यता समिति के अध्यक्ष, श्री हेमन्त तिवारी ने भी कुछ समय के लिए इस बैठक में प्रतिभाग किया और उन्होंने अपने सुझाव प्रस्तुत किए। सम्यक् विचारोपरान्त बैठक में यह मत स्थिर किया गया कि दिनांक 23 मई, 2022 से प्रारम्भ होने वाले विधान सभा के सत्र में निम्नलिखित मानकों के साथ सम्मानित पत्रकारों को प्रवेश-पत्र निर्गत किए जाएंगे एवं अन्य सुविधाएं दी जाएंगीः-

  1. सभी प्रमुख समाचार पत्रों के प्रतिनिधियों एवं मुख्य समाचार एजेंसियों के प्रतिनिधि।
  2. राज्य स्तर पर जिन दैनिक समाचार पत्रों का सर्कुलेशन 30 हजार प्रतियों से अधिक है, उनके स्तर से भी प्रवेश पत्र हेतु अनुरोध किया जा सकता है।
  3. मुख्य इलेक्ट्रॉनिक चैनल।
  4. मीडिया सेन्टर में बेहतर सुविधाएं दी जाएंगी एवं उसका पुनरोद्धार किया जाएगा।
  5. विधान सभा में पत्रकारों के लिए एक अतिरिक्त गैलरी निर्धारित की जाएगी।
  6. बैठक में लिए गए उपरोक्त निर्णयों के अनुसार ही आगामी विधान सभा सत्र हेतु सम्मानित पत्रकारों को प्रवेश पत्र विधान सभा सचिवालय के पटल कार्यालय से निर्गत किए जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button