बृजेश पाठक और केशव मौर्या पुश पुल के सिद्धांत पर योगी सरकार को देते विकास की डबल रफ्तार

Dr.-Mohammad-Kamran Freelance Journalist

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में डबल इंजन की सरकार की रफ्तार भी रेलवे के डबल इंजन के सिद्धांत की तरह है। रेल के डबल इंजिन पुश पुल के सिद्धांत पर काम करते हैं जिससे रेल की रफ़्तार डबल गति से ट्रैक पर भागते, दौड़ते दिखती है।

संवेदनशील, संयमशील, मिलनसार व्यक्तित्व के उत्तर प्रदेश सरकार के दोनों उपमुख्यमंत्री बजट सत्र में मुख्यमंत्री के उद्घोषण से पहले जिस तरह पुश पुल नीति के चलते मीडिया प्रतिनिधियों से आकर मिलते है, उनके हालचाल लेते है, वो योगी सरकार की व्यवहार कुशलता और मीडिया के प्रति संवेदनशीलता को दर्शाता एक पहलू है, इसी पुश पुल के सिद्धांत का दूसरा पहलू है कि मीडिया जगत में योगी सरकार की उपलब्धता की खबरों की रफ्तार डबल गति से प्रकाशित, प्रसारित और प्रचारित होती है।

विपक्षी दलों को पुश पुल और व्यवहार कुशलता का यह सिद्धांत डबल इंजिन की योगी सरकार से सीखना होगा और विपक्षी नेताओं को अपने आचरण में व्यवहारकुशलता अपनाने का ये कौशल बदलते परिवेश में सीखना जरूरी है जो फिलहाल किसी भी विपक्षी दल के नेता में नहीं देखा जाता है जबकि कामयाबी का मूल मंत्र ही संयम और व्यवहारकुशलता कहलाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button