लखीमपुर कोतवाल चंद्रशेखर सिंह द्वारा पत्रकारों से की गई अभर्दता पर आईना ने दिया ज्ञापन

जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने जांच के बाद कार्यवाही का दिया आश्वासन

 

लखीमपुर कोतवाल चंद्रशेखर सिंह द्वारा पत्रकारों से की गई अभर्दता पर आईना ने दिया ज्ञापनलखीमपुर खीरी (आमिर इक़बाल )। थाना हैदराबाद के अंतर्गत ग्राम महेशपुर में कच्ची शराब से लदी बाईक से फरूखा बाद से कांवर लेकर आ रहे 25 वर्षीय कांवड़िये बृजेश पाल को रौंदने के बाद बाईक सवार को पुलिस ने भगाने में अहम रोल अदा किया था। जिसके बाद कांवड़ियों ने रोड जाम कर के पुलिस को चुनौती दी थी।

यह भी पढ़ें : बगैर नम्बर की बाईक ने कांवड़िये को रौंदा

लखीमपुर कोतवाल चंद्रशेखर सिंह द्वारा पत्रकारों से की गई अभर्दता पर आईना ने दिया ज्ञापन

तत्पश्चात कई थानों की पुलिस ने जाम लगाये कांवरियों से मारपीट करके जाम रोड को खुलवाने का प्रयास किया था। जिसमें मौत जिंदगी से जूझ रहे बृजेश पाल को भी पुलिस ने नहीं बक्सा था के संबंध में आल इंडिया न्यूज़ पेपर यशोशिएशन के पत्रकारों ने जिला अधिकारी, पुलिस अधीक्षक को एक तहरीर देकर कोतवाली सदर चंद्रशेखर सिंह के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने की मांग की।

यह भी पढ़ें : फिल्मी स्टाइल में हताश पति ने पत्नी को गोली से उड़ाया

चंद्रशेखर सिंह ने मृतक के परिजनों से पूछताछ कर रहे पत्रकारों को, पुलिस की पोल खुल न जाने के डर से घबड़ाए कोतवाल सदर चंद्र शेखर सिंह ने पत्रकारों से अभद्र व्यवहार करते हुए जेल भेज देने की धमकी दी थी। जिस पर जिला अधिकारी महेंद्र बहादुर सिंह, पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने पत्रकारों को जांच के बाद कार्यवाही का आश्वासन देते हुए कहा कि यदि आप लोग पोस्टमार्टम हाउस पर न जायें, जहां से पत्रकारों को घटना की सच्चाई के बारे में पता चलता है तो बेहतर होगा।

यह भी पढ़ें : मत्स्य विभाग के काबीना मंत्री की प्रेस वार्ता में अफरातफरी

लखीमपुर कोतवाल चंद्रशेखर सिंह द्वारा पत्रकारों से की गई अभर्दता पर आईना ने दिया ज्ञापन

जिस पर पुलिस अधीक्षक से पत्रकारों ने बताया कि पोस्टमार्टम हाउस पर दबंगों की दबंगई व पुलिस के अत्याचार की सच्चाई से पत्रकार अवगत हो जाते हैं। पुलिस अधीक्षक संजीव सुमन ने एक चौंकाने वाली बात पत्रकारों को बतायी कि कुछ पत्रकारों ने मुझको बताया कि पोस्टमार्टम हाउस पर शहर कोतवाल चंद्रशेखर सिंह ने कोई ऐसा व्यवहार नहीं किया जिससे कोई आहत हो। तब पत्रकारों ने बताया कि उन्हीं पत्रकारों ने अवगत कराया, जिन्होंने थाना खीरी से संबद्ध पुलिस चौकी अमृतागंज में छलांग लगाने वाले ककरहा निवासी वीर सिंह की मौत का मैनेज कराकर घटना को गलत साबित किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button